NIA क्‍या है। NIA Full Form क्‍या है।

nia full form and nia ke bare me jankari, nai kya hai, ishhka mukhyalay kaha hai.

दोस्‍तों भारत में केन्‍द्र सरकार के अधीन विभिन्‍न जांच एजेंसिया है।

जांच एजेंसियों को अलग-अलग कार्यक्षेत्रों, कार्य की प्रकृति आदि के आधार पर अलग-अलग विभाजित  किया‍ है।

इन्‍ही में से एक है, एन.आई.ए.।

आज हम इस लेख के माध्‍यम से आपको एन.आई.ए. के बारे में हिन्‍दी में जानकारी उपलब्‍ध करा रहे है, जैसे NIA क्‍या है। NIA Full Form क्‍या है, आदि।

nia full form

NIA क्‍या है।

भारत की केन्‍द्र सरकार के अधीन आतंकवाद विराधी कार्यो के लिए एक टास्‍क फोर्स है, जिसे एन.आई.ए. कहते  है।

NIA Full Form :-

यहां हम आपको हिन्‍दी एवं अंग्रेजी दोनों में फुल फार्म बता रहे है:-

NIA Full Form In Hindi :-

राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी

NIA Full Form In English :-

National Investigation Agency

National Investigation Agency के कार्य :-

यह जांच एजेंसी राज्‍यों से विशेष अनुमति के बिना देश के किसी भी राज्‍य में आतंकवादी संबंधित अपराधों के निपटारे का अधिकार रखती है।

एन.आई.ए. का इतिहास:-

भारत के महाराष्‍ट्र राज्‍य के मुम्‍बई में 2011 में आतंकवादी हमले से देश की मौजूदा जांच एजेंसियों की आतंकवादी गतिविधियों को ट्रेक करने में खुफिया जानकारी एवं क्षमता की विफलता स्‍पष्‍ट रूप से सामने आई,

तब आतंकवादी गतिविधियों से संबंधित समस्‍याओं के निपटारे के लिए एक अलग निकाय की आवश्‍यकता का एहसास हुआ।

भारत सरकार द्वारा वर्ष 2008 में इस एजेंसी की स्‍थापना की गई।

National Investigation Agency का मुख्‍यालय:-

भारत की राजधानी दिल्‍ली में एन.आई.ए. का मुख्‍यालय है तथा

इसकी विभिन्‍न शाखाएं हैदराबाद, कोलकाता, कोच्ची, लखनऊ, गुवाहाटी, मुंबई, रायपुर तथा जम्‍मु में है।

एजेंसी का प्रमुख उद्देश्य एक अच्छी तरह से पेशेवर जांच एजेंसी बनाना है,

जो सबसे बेहतर तरीके से आतंकवादी गतिविधियों को राकने ने सक्षम हो। 

तथा उच्च प्रशिक्षित, साझेदारी उन्मुख कर्मचारियों के रूप में विकसित करके आतंकवाद और

राष्ट्रीय स्तर पर अन्य राष्ट्रीय सुरक्षा संबंधी जांच में उत्कृष्टता के मानकों को निर्धारित करना है।

इसका उद्देश्य मौजूदा और संभावित आतंकवादी समूहों / व्यक्तियों के लिए बंधन बनाना है।

इसका उद्देश्य सभी आतंकवादी संबंधित सूचनाओं के भंडार के रूप में विकसित करना है।

एन.आई.ए. का अधिकार क्षेत्र:-

इस जांच एजेंसी को एन.आई.ए. अधिनियम के तहत

अधिनियम की अनुसूची में निर्दिष्‍ट अधिनियमों के तहत अपराधों की जांच

और मुकदमा चलाने का अधिकार है।

इसके अलावा केन्‍द्र सरकार भारत में कहीं भी किसी भी अनुसूचित अपराध की जांच करने का आदेश एन.आई.ए. को दे सकती है।‍

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (संशोधन) अधिनियम, 2019 के अनुसार :-

एनआईए के अधिकारियों को अंतर्राष्ट्रीय संधियों और अन्य देशों के घरेलू कानूनों के अधीन भारत के बाहर किए गए अनुसूचित अपराधों की जांच करने की शक्ति होगी।

विशेष एनआईए कोर्ट :-

National Investigation Agency अधिनियम 2008 की धारा 11 और 22 के तहत

एनआईए के विभिन्न पुलिस स्टेशनों पर दर्ज मामलों की सुनवाई के लिए विभिन्न विशेष न्यायालयों को भारत सरकार द्वारा अधिसूचित किया गया है।

इन अदालतों के क्षेत्राधिकार के अनुसार कोई भी प्रश्न केंद्र सरकार द्वारा तय किया जाता है। 

इनकी अध्यक्षता उस क्षेत्र में क्षेत्राधिकार वाले उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश की सिफारिश पर केंद्र सरकार द्वारा नियुक्त न्यायाधीश द्वारा की जाती है।

भारत के सर्वोच्च न्यायालय को यह भी अधिकार दिया गया है कि

वह मामलों को एक विशेष अदालत से किसी अन्य विशेष अदालत में स्थानांतरित कर सकता है

यदि वह किसी विशेष राज्य में मौजूदा परिस्थितियों के प्रकाश में न्याय के हित में है।

एनआईए के विशेष न्यायालयों को किसी भी अपराध के मुकदमे के लिए दंड प्रक्रिया संहिता, 1973 के तहत

सत्र की अदालत की सभी शक्तियों के साथ सशक्त बनाया गया है।

Conclusion of NIA तथा NIA Full Form Post :-

हमने इस लेख में NIA तथा NIA Full Form के बारे में जानकारी हिन्‍दी में उपलब्‍ध कराई है,

यदि आपको हमारी पोस्‍ट सूचनायुक्‍त लगी तो कृपया इसे शेयर करें।

You may also like...

Leave a Reply